तैयार हो जाइये! Delhi Heritage Walk के तहत मालचा महल | भूली भटियारी की सैर के लिए

देश की राजधानी दिल्ली में घूमने की एक से बढ़कर एक जगहें हैं। दोस्तों के साथ मनोरंजन करने से लेकर फैमिली के साथ पिकनिक मनाने तक के लिए, दिल्ली में हर तरह का उपाय मौजूद है। घूमने का शौक रखने वाले लोग भूतिया जगहों को भी नहीं छोड़ते। यही वजह है कि उनका घुमंतू स्वभाव उन्हें नयी-नयी जगहें एक्स्प्लोर करने में मदद करता है। Delhi Heritage Walk के तहत दिल्ली सरकार पर्यटन विभाग के द्वारा एक ऐसी ही पहल शुरू होने वाली है जो घूमने का शौक रखने वाले लोगों को खूब पसंद आएगी। 

Delhi Heritage Walk के तहत haunted places को आम लोगों के लिए खोल दिया जाएगा ताकि लोग ऐसी हॉन्टेड स्पॉट्स को एक्सप्लोर कर सके। इस मजेदार यात्रा में दिल्ली की भूतिया जगहों में से एक भूली भटियारी का महल, मालचा महल, फिरोजशाह कोटला और तुगलकाबाद का किला के नाम प्रमुख हैं जिन्हे आम लोगों के लिए खोला जायेगा। इस लेख के माध्यम से हम आपको दिल्ली हेरिटेज वॉक के तहत शुरू की जाने वाली इस यात्रा की सम्पूर्ण जानकारी देने वाले हैं। 

मालचा महल का इतिहास 

चाणक्यपुरी के पॉश इलाके में मौजूद Malcha Mahal अपनी रहस्यमयी स्थिति के कारण लोगों को हैरान करता आया है। तुग़लक़ के समय में बनाया गया यह hunting lodge सालो तक खाली रहा, जब तक यह एक ‘mysterious family’ के रहने की वजह से पॉपुलर नहीं हुआ। लोगों का ऐसा मानना है की आत्महत्या करने के वजह से इस फैमिली की आत्मा अभी भी यहां भटकती है। इसी वजह से इस जगह को हॉन्टेड कहा जाने लगा। 

दरअसल, 1325 में सुल्तान फ़िरोज़ शाह तुग़लक़ ने इस जगह को अपने शिकार करने के लिए बनवाया था। लेकिन 1985 में खुद को oudh के शाही परिवार का सदस्य होने का दावा करने वाली महिला ‘Begum Vilayat Mahal’ यहां रहने लगी। जिसके बाद इस जगह को ‘विलायत महल’ के नाम से जाना जाने लगा। वह महिला बिना बिजली-पानी के अपने 10-11 कुत्तों के साथ यहां रहती थी। 1993 में आत्महत्या के कारण उसकी मृत्यु हो गयी। 

इस महिला एक एक बेटा भी था जिसका नाम अली रज़ा था, उसकी मौत 2017 में होने के बाद से यह जगह सुनसान पड़ी रहती है। 

दिल्ली टूरिज्म की पहल 

दिल्ली टूरिज्म बहुत जल्द एक पहल शुरू करने वाला है जिसके तहत वह दिल्ली के कुछ भूतिया माने जाने वाली जगहों को आम लोगों के लिए खोल देगा। जिससे लोग इन जगहों को सैर-सपाटे के लिए इस्तेमाल कर सके। इसमें हॉन्टेड माने जाने वाले मालचा महल भी शामिल है जिसकी कहानी हमने आपको ऊपर बताया। टूरिज्म विभाग ने  इसका नाम ‘Haunted Walks’ या Ghost Walks दिया है। 

किन-किन जगहों को खोला जायेगा 

दिल्ली हेरिटेज वॉक के तहत शुरू की जाने वाली यात्रा में मालचा महल के अलावा दूसरी साइट्स को भी शामिल किया जायेगा। इस पायलट प्रोजेक्ट में मालचा महल, bhuli bhatiyari ka mahal, फिरोज शाह कोटला और तुग़लक़ाबाद फोर्ट शामिल है। साथ ही इसकी संभावना भी अधिक है की जनता की अच्छी प्रतिक्रिया देखने के बाद दिल्ली के अन्य पार्क और स्मारकों को भी खोला जायेगा।

दिल्ली हॉन्टेड वॉक कब से शुरू होगी  

दिल्ली में शुरू होने वाली इस ‘haunted walk’ को मई के दूसरे हफ्ते से शुरू करने की योजना है। इस वॉक को संचालित करने के लिए शाम का टाइम निर्धारित किया गया है। जिसके तहत शाम के 5:30 से लेकर रात के 9:30 बजे तक इस वॉक का आयोजन किया जायेगा। 

क्यों ख़ास होगी ‘हॉन्टेड वॉक’ 

ऐसा कहा जा रहा है कि सूरज डूबने के बाद यह जगह एक ‘chilling experience’ प्रदान करती है। जंगल के भीतर मौजूद यह स्थान बहुत सुनसान पड़ा रहता है। छत की तरफ जाती सीढ़ियां रात में एक डरावना अनुभव देती है साथ ही हिरण, बंदर, उल्लू और चमगादड़ की आवाज़े इस अनुभव को रात में और अधिक डरावना बना देते हैं। दिल्ली में घूमने की जगह के रूप में ‘हॉन्टेड वॉक’ टूरिस्ट को एक अनोखा और अद्भुत अनुभव प्रदान करेगी।   

मालचा महल के अलावा भी दिल्ली में दूसरी जगहें हैं जिन्हें रात में विजिट करने के लिए खोला जाएगा। इसमें शामिल है भूली भटियारी जो रिज ridge area के केंद्र में है। साथ ही Feroz Shah Kotla के संबंध में कहा जाता है की यहां अच्छे और बुरे दोनों तरह के जिन्न रहते हैं, लोगों के विश्वास के कारण यहां धागे भी बंधे मिलते हैं। ‘Haunted Walk’ का आयोजन 6 बैच में किया जायेगा। जिसमे हर एक बैच में 20-20 लोग शामिल होंगे। 

दिल्ली ‘हॉन्टेड वॉक’ की टिकट प्राइस और बुकिंग 

दिल्ली में शुरू होने वाले इस हॉन्टेड वॉक’ की कीमत 1000 प्रति व्यक्ति रखी गयी है। इसकी टिकट आप दिल्ली टूरिज्म के ऑफिशियल हैंडल से dekho meri dilli app पर डाउनलोड करके बुक कर सकते हैं। टिकट में आपको एक गाइड के साथ-साथ किट भी दिया जायेगा। इस किट में आपको टोर्च, बोतल, स्टिक, कैप, बैंड, जूट बैग, जूस और सीजनल फल आदि दी जाएगी।  

घूमने से संबंधित महत्वपूर्ण जानकारी 

 

समय टिकट कीमत साधन 
हॉन्टेड वॉक साढ़े पांच से शुरू होकर साढ़े नौ बजे तक चलेगी ‘हॉन्टेड वॉक’ की कीमत 1000 प्रति व्यक्ति रहने वाली है टूरिस्ट को व्हील्स में पिक किया जाएगा और 1.5-2 किलोमीटर तक की वॉक करवाएगी जाएगी  

 

Delhi Heritage Walk  के तहत शुरू होने वाली इस डरावनी यात्रा में सैलानी शामिल होकर एक अनोखे और शानदार अनुभव प्राप्त कर सकते हैं। इस वॉक की सबसे ख़ास बात ये है की दिल्ली में घूमने की जगहों में इसके शामिल होने से एडवेंचर पसंद लोगो को बहुत मदद मिलेगी। इससे न केवल उनके घूमने-फिरने की जगह में वृद्धि होगी बल्कि उनका adventure एक्सपीरियंस भी एक नया आकार लेगा। 

तो फिर देर किस बात की चलिए तैयार हो जाइये इस रोचक वॉक पर चलने के लिए। यह सामान्य सी वॉक आपको छिपा हुआ और अनदेखा ऐतिहासिक स्थान खोजने और उन्हें देखने में बहुत सहयोग करेगी। यह heritage walk न केवल व्यापार में वृद्धि करेगा बल्कि दिल्ली टूरिज्म क्षेत्र में भी विस्तार करने में सहयोग करेगा। उम्मीद करते हैं की इस लेख में आपको Bhuli bhatiyari tourist spot और इससे सम्बंधित तमान जानकारी मिल गयी होगी।  इस विषय पर आप अपनी राय हम तक कमेंट के माध्यम से पहुंचा सकते हैं।

Leave a Comment