मेटावर्स क्या है जिसे इंटरनेट से आगे की दुनिया कहा जा रहा है

आज से कुछ साल पहले तक इंटरनेट का उतना प्रसार नहीं था जितना आज है। आज इंटरनेट से वो सारे काम किये जा सकते है जिसकी कुछ कुछ साल पहले तक कल्पना करना भी मुश्किल था। ऐसे में इंटरनेट हमारे दैनिक जीवन में बहुत उपयोग की वस्तु साबित हुआ है। आज के समय में बच्चे से लेकर बुगुर्ज और हाउसवाइफ से लेकर पेशेवर तक, हर कोई इंटरनेट से जुड़ा है और अपनी दैनिक जरूरतों के लिए इसी पर निर्भर है। इंटरनेट जब से आया है तब से इसने हमारे बहुत सारे कामो को आसान कर दिया है। ऐसे में अगर ये कहा जाए की इंटरनेट की इतनी सारी खूबिया सिर्फ यही नहीं ख़त्म होती है बल्कि इसके भी आगे जाती है तो हैरानी नहीं होनी चाहिए। आने वाले समय में इंटरनेट का एक विस्तारित रूप देखने को मिलेगा जिसे metaverse के नाम से जाना जायेगा। ये एक ऐसी दुनिया होगी जिसमे हर काम वर्चुअल माध्यम से होगा। चाहे स्कूल या कॉलेज के क्लास हो, ऑफिस की मीटिंग्स हो, या फिर किसी शादी या पार्टी में शामिल होना हो। ये सब कुछ बस घर बैठे किया जा सकेगा। इसी दुनिया को मेटावर्स कहा जायेगा। अब शायद आप सोच रहे होंगे की वास्तव में metaverse kya hai और इसके आने से हमारे जीवन में क्या-क्या बदलाव आएगा। Metaverse को भविष्य और इंटरनेट के बाद की दुनिया कहा जा रहा है। जिसमे वर्चुअल तरीके से वो सब कुछ किया जा सकेगा जिसकी कल्पना की जा सकती है। इस लेख में हम आपको metaverse technology kya hai और metaverse ka matlab क्या है के बारे में विस्तृत जानकारी देंगे।

मेटावर्स का मतलब क्या है? – What does Metaverse mean?

Metaverse दो शब्दों से मिलकर बना है ‘meta’ और ‘verse’ , ‘meta’ का अर्थ होता है ‘के पार’ (beyond) और जबकि ‘verse’ , शब्द universe से आया है। ये दोनों मिलकर Metaverse बनाते है। जो अभी बहुत चर्चा का विषय बना हुआ है। ये शब्द चर्चा में तब और ज्यादा आ गया जब फेसबुक ने अपना नाम meta रखने की घोषणा की, जिसके बाद से लोगो में इस विषय को जानने का कोतुहल भी बढ़ गया है। इस शब्द का सबसे पहली बार प्रयोग Neal Stephenson ने अपनी नोवेल ‘Snow Crash’ में सन 1992 में की थी।

मेटावर्स क्या है? – What is Metaverse

Metaverse एक ऐसी दुनिया है जिसमे सब कुछ वर्चुअल माध्यम से होता है। ये दुनिया हमारे वास्तविक दुनिया से मिलती-जुलती है। लेकिन ये सब कुछ वर्चुअल है यानी की कंप्यूटर से तैयार किया गया है। इस दुनिया में वो सब कुछ किया जा सकता है जिसको एक वास्तविक दुनिया में कर सकते है। इस वर्चुअल या आभासी दुनिया में आप लोगो से अपने घर बैठे-बैठे ही मिल सकते है, किसी भी शादी या पार्टी का हिस्सा बन सकते है बिना वहां पहंचे, बिना कक्षा में बैठे घर से ही अपनी क्लास ले सकते है और सामने वाले को लगेगा की आप वास्तविक रूप में उनके सामने उपस्थित है। इसके अलावा आप अपने favourite अवतार (Avatar) का रूप धारण कर कहीं भी घूम सकते है, अपने मनपसंद अवतार का रूप धारण कर आप बेहतरीन गेम का हिस्सा बन उसको एन्जॉय कर सकते है। सुनने में ये जितना रोमांचक लगता है वास्तविकता में इसका अनुभव करेंगे तो ये और भी ज्यादा रोमांचित करेगा। इस आभासी दुनिया को अगर वास्तविक दुनिया की हूबहू नक़ल कहा जाये तो गलत नहीं होगा। यहां पर अलग-अलग तरह के अवतारों को देखा जा सकता है। ये आभासी दुनिया Augmented Reality और Virtual Reality पर आधारित है और देखने में बिलकुल वास्तविक दुनिया की तरह लगती है।

मेटावर्स शब्द किसने गढ़ा? – Who coined the term metaverse

Neal Stephenson ने 1992 में सबसे पहले Metaverse शब्द का प्रयोग अपने नोवेल ‘Snow Crash’ में किया था। इसमें उन्होंने इंटरनेट के आगे की दुनिया की कल्पना की थी। ये एक ऐसी इंटरनेट दुनिया की कल्पना थी जिसमे लोग घर में बैठे रहे और उनकी 3D तस्वीर (Hologram) दुनिया के किसी भी कोने में पहुँच जाए। यह नोवेल Metaverse kaisi hogi इसके बारे में जानकारी देती है। इस metaverse में लोगो के अवतार एक दूसरे से संपर्क करेंगे, और virtual interaction करेंगे। इसी के बाद से, ये शब्द आज के समय में प्रसिद्धि पा चर्चा का विषय बना हुआ है।

मेटावर्स हिंदी में – Metaverse in Hindi

मेटावर्स का उद्देश्य लोगो को एक अलग अनुभव प्रदान करने का है। इसमें आपको सुविधा मिलती है की आप खुद को कहीं भी एक झटके में teleport कर सकते है। मतलब अगर आपको किसी दोस्त से मिलना है तो उसके लिए आपको उसके पास जाने की जरूरत नहीं है। आप augmented reality या जिसे virtual reality भी कहा जा रहा है, का इस्तेमाल करके घर से ही वहां पहुँच सकते हैं। इसके अलावा आप अपने घर में बैठकर कहीं भी और कभी जा सकते है। आप अपने ऑफिस की मीटिंग्स अटेंड कर सकते है, सिनेमा देखने के साथ-साथ लाइव गेम्स का मज़ा भी ले सकते हैं। ये बहुत ही ख़ास और बेहद ही अलग अनुभव देने वाला हो सकता है।

मेटावर्स कैसा दिखेगा – How metaverse will look?

Metaverse kya hai समझने के बाद ये समझना महत्वपूर्ण है की metaverse kaisa hoga? आप ने 3D फिल्में जरूर देखी होंगी, जिसमे आपको सब कुछ रियल और आखों के सामने होता हुआ नज़र आता है। मेटावर्स उसी का विस्तारित रूप है और उस से भी ज्यादा बढ़िया से नज़र आने वाला है जिसमे आपको सब कुछ रियल लगेगा लेकिन वो सब होगा virtual मतलब वास्तव में चीज़े संचालित कहीं और से हो रही होंगी लेकिन आपको ऐसा लगेगा की वो सब कुछ आपके सामने घटित हो रहा है। इसमें आप अवतार के माध्यम से अपने प्रियजनों, दोस्तों और रिश्तेदारों से जुड़ सकते हैं। उनसे बात करने के साथ-साथ उनके साथ कहीं भी घूमने जा सकते हैं। वैसे देखा जाए तो ये भी एक सोशल प्लेटफार्म (metaverse social platform) की तरह ही होगा लेकिन देखने में बिलकुल रियल लगेगा। इसमें सारे प्रतिरूप वास्तविक नज़र आएंगे। ये एक वर्चुअल दुनिया (metaverse virtual world) होगी जिसमे सब अपना-अपना किरदार जियेंगे। इसकी इन्ही खूबिया के कारण इसको इंटरनेट का अगला दौर कहा जा रहा है।

मेटावर्स कैसे काम करेगा? How Metaverse will work?

Metaverse में आप अपना Avatar बना सकते हैं और उस अवतार का उपयोग आप खुद को रिप्रेजेंट (avatar representation) करने के लिए कर सकते हैं। इस अवतार के माध्यम से आप metaverse में कहीं भी और कभी भी जा सकते हैं। यह एक सॉफ्टवेयर पर आधारित होगा जिसमे बेहतरीन डिज़ाइन और थीम देखने को मिलेंगे और इसमें आपको अपना अवतार कस्टमाइज करने की भी सुविधा मिलेगी। इसमें एक अवतार दूसरे अवतार से interact कर पाएंगे। इसके अलावा इस platform पर आप अपने उसी अवतार में अलग-अलग स्थानों पर प्रवेश कर पाएंगे जैसे:- मॉल, गेम्स, कैसिनो, कंसर्ट्स आदि में। इसकी के साथ इस प्लेटफार्म पर अगर आप अपने दोस्त के साथ कोई गेम खेल रहे हैं और एकदम से आपका मन किसी दूसरी जगह घूमने का किया तो आप अपना गेम छोड़कर घूमने जा सकते है उससे आपके गेम पर प्रभाव नहीं पड़ेगा। आप वापिस आकर अपने गेम को resume कर सकते हैं। Metaverse में Avatar, Software और Technology बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले है।

इसी के साथ इसमें Metaverse Content Creators भी होंगे जो metaverse के लिए कंटेंट को तैयार करेंगे। मसलन उनका मुख्य काम scenery design करने के साथ ही users को एकदम असली दुनिया का अनुभव दिलाने के लिए सब सब कुछ बनाना है। इसमें अलग-अलग तरह के कंटेंट बनेंगे जैसे क्लासरूम के लिए कंटेंट, ऑफिस के लिए कंटेंट, मूवी थिएटर, पार्क आदि के लिए कंटेंट को बनाना और डिज़ाइन करना उनका मुख्य उद्देश्य होगा। पूरे Metaverse का अनुभव VR Headset के माध्यम से लिया जा सकता है। VR Headset के द्वारा अलग-अलग कंपनी के metaverse platform को देखा जा सकता है। ऐसा ही एक प्लेटफार्म ‘Microsoft’ का ‘Mesh’ भी है।

मेटावर्स के उदहारण – Metaverse examples

मेटावर्स एक (Metaverse evolving concept) है, ये आज भी होते हुए देखा जा सकता है। अभी आप जो गेम खेलते है या थिएटर में 3D फिल्म देखते हैं, वो सब metaverse के ही उदहारण है। उसमे भी आप खुद को एक अवतार की तरह देखते है और उसका आनन्द लेते हैं। Gta San Andreas जैसे गेम्स तो इसके सबसे अच्छे उदहारण में से एक है जहां आप जो चाहे कर सकते है। लेकिन इन्हे आप सिर्फ एक सीमित स्क्रीन पर ही देख या कर सकते हैं। वहीँ अगर बात की जाए metaverse की तो इसमें आपको सुविधा मिलती है की आप सब कुछ रियल जैसा अनुभव कर सकते हैं। इसी के अलावा हॉलीवुड में कई ऐसी फिल्में बनी है जिसने metaverse की दुनिया को दिखाने का प्रयास किया है। तो देखा जाए तो metaverse कोई ठहरी हुई अवधारणा नहीं है। बल्कि हम सब धीरे-धीरे इसमें प्रवेश कर रहे हैं।

मेटावर्स की विशेषता – Features of Metaverse

  1. मेटावर्स में आप कहीं भी और कभी भी अपने अवतार के द्वारा पहुँच सकते हैं।
  2. इसकी मदद से आप अपने दोस्तों, परिवारवालों और प्रियजनों से वर्चुअल 3D होलोग्राम के माध्यम से कनेक्ट कर सकते हैं। जो की आपको एकदम असली फीलिंग देने का काम करेगा।
  3. मेटावर्स में आप घर बैठे ही ऑफिस मीटिंग करना , गेम खेलना, किसी कॉन्सर्ट में शामिल होना जैसे कार्य बड़ी ही आसानी से कर सकते हैं।
  4. मेटावर्स का उद्देश्य आपको एक अलग ही अनुभव प्रदान करना है। इसमें आपको रियल और वर्चुअल दुनिया में बहुत कम अंतर नज़र आएगा।
  5. मेटावर्स बहुत ही उन्नत टेक्नोलॉजी का एक शानदार उदाहरण साबित होने वाला है। इसमें दुनिया को एक अलग ही तरीके से देखने को मिलेगा।

Metaverse Crypto hindi

मेटावर्स की दुनिया में हर तरह के आर्थिक लेन-देन के लिए cryptocurrency एक बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका में है। क्रिप्टोकोर्रेंसी के बिना मेटावर्स की कल्पना करना भी मुश्किल है। आज हम हर तरह के आर्थिक लेन-देन ऑनलाइन (online) या कैश (cash) में करते हैं लेकिन वहीं अगर बात की जाए कुछ साल पहले तक की तो उस समय सारे transactions कैश में ही होते थे, फिर धीरे धीरे ज़माना बदला और कैश से लोग डिजिटल लेन-देन पर भी शिफ्ट हुए। अब आने वाला दौर cryptocurrency का होने वाला है। खासकर Metaverse में क्रिप्टोकोर्रेंसी एक बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाला है।

उम्मीद करते है की metaverse kya hai in hindi के बारे में आपको सम्पूर्ण जानकारी मिल गयी होगी। इस लेख में हमने metaverse से सम्बंधित सभी पहलुओं पर चर्चा की है। इस बात में तो कोई गुंजाईश नहीं है की आने वाले कुछ समय में metaverse दुनिया का भविष्य साबित होगा। Metaverse evolving concept है जहां इसमें लगातार परिवर्तन देखने को मिल रहे हैं। धीरे-धीरे इस से सम्बंधित जानकारी हमारे तक पहुँच रही है। बहुत सारे लोगो को लग सकता है की how metaverse will change the world तो इसका उत्तर यही होगा की परिवर्तन संसार का नियम है और हम सब इस परिवर्तन को हर क्षण अनुभव करते हैं। ऐसे में ये जानना जरूरी हो जाता है भविष्य हमें कैसी-कैसी टेक्नोलॉजी से अवगत कराएगा ताकि हमें उसके बारे में पहले से ही जानकारी हो। Metaverse निश्चित तौर आने वाले समय में पूरी दुनिया को बदल के रख देगा। जिस तरह से मोबाइल और इंटरनेट मानव जीवन में क्रांति लेकर आये। उसी तरह मेटावर्स भी तकनीक की दुनिया में क्रांति लाने का काम करेगा और मानव जीवन को सुविधाओं से सुसज्जित करेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.