एसपीजी सुरक्षा क्या है?

वैश्विक मानचित्र पर कोई भी देश एक बहुत ही महत्वपूर्ण भूखंड होता है। इस भूखंड की सुरक्षा के लिए उस देश के लोग जीते और मरते हैं। साथ ही उस देश की सीमा को जितना सुरक्षित रखना देश के जवानो का कर्त्तव्य होता है उतना ही जरूरी उस देश के महत्वपूर्ण लोगो की भी सुरक्षा करना होता है। भारत समेत दुनिया भर में ऐसी संस्थाएं मौजूद है जो अपने देश के महत्वपूर्ण लोगो की सुरक्षा का जिम्मा उठा के रखती है। भारत में भारत के प्रधानमत्री एक बहुत ही महत्वपूर्ण व्यक्ति होते हैं जिनपर पूरे देश की जिम्मेदारी होती है ऐसे में प्रधानमंत्री की सुरक्षा चाकचौबंद हो ये बहुत महत्वपूर्ण हो जाता है। देश के मुखिया पर हमेशा खतरे मंडराते रहते है इसलिए भारत में कमांडो की एक ऐसी टुकड़ी है जिसका काम प्रधानमंत्री की सुरक्षा करना है और उनको हर तरह के खतरों से बचाना है। इस टुकड़ी का नाम एसपीजी (SPG) है। एसपीजी कमांडो बनना गर्व की बात होती है क्यूंकि इस बल का हिस्सा कुछ ही लोग बन पाते हैं जिनमे बहुत अधिक प्रतिभा होती है। इनकी ट्रेनिंग बहुत ही ज्यादा कठिन और स्पेशल तरह की होती है। इसमें शामिल होने वाले अभ्यर्थी को हर तरह के टेस्ट पास करने होते हैं उसके बाद ही उसे प्रधानमत्री की सुरक्षा में लगाया जाता है। आज के इस लेख में हम आपको spg suraksha kya hai या spg kya hota hai के बारे में विस्तार से जानकारी देंगे। साथ ही आपको spg full form और spg commando के बारे में भी बताएँगे।

एसपीजी का फुलफॉर्म क्या है? – SPG Fullform

एसपीजी का फुलफॉर्म होता है Special Protection Group हिंदी में इसे ‘विशेष सुरक्षा दल’ कहा जाता है। ‘शौर्यम् समर्पणम् सुरक्षणम्’ इस सुरक्षा दल का आदर्श वाक्य है। इसकी स्थापना 2 जून, 1988 को की गयी थी। बहुत अधिक कठिन परिश्रम के बाद ही एसपीजी का हिस्सा बन सकते हैं। इसकी ट्रेनिंग बहुत कठिन होती है।

एसपीजी सुरक्षा क्या है – What is SPG Security

एसपीजी एक ऐसा सुरक्षा बल है जिसका काम प्रधानमंत्री की सुरक्षा करना है। प्रधानमंत्री के अलावा ये उनके परिवार की सुरक्षा करने के लिए भी जिम्मेदार है। कुछ साल पहले तक पूर्व प्रधानमंत्री और उनके परिवार को भी एसपीजी सुरक्षा दी जाती थी लेकिन अब इसे ख़त्म कर दिया गया है। मौजूदा समय में एसपीजी सुरक्षा केवल भारत के प्रधानमंत्री को ही दी जाती है। एसपीजी को भारत के सबसे मजबूत सुरक्षा बल के रूप में जाना जाता है। एसपीजी में काम करने वाला एक-एक जवान विशेष ट्रेनिंग पाया हुआ होता है। साथ ही उनको हर तरह की परिस्थिति के लिए विशेष प्रशिक्षण दिया जाता है ताकि प्रधानमंत्री की बेहतर सुरक्षा की जा सके। प्रधानमंत्री जहाँ भी जाते हैं SPG Commando हमेशा उनके साथ होते हैं इसके अलावा प्रधानमंत्री जिस राज्य में जाते हैं वहां की राज्य पुलिस भी एसपीजी कमांडो के साथ मिलकर प्रधानमंत्री के लिए सुरक्षा घेरा बनाती हैं। एसपीजी प्रधानमंत्री की सुरक्षा से सम्बंधित प्लान भी बनाती है जिसको बड़ी ही ख़ुफ़िया तरीके से अंजाम दिया जाता है ताकि प्रधानमंत्री की सुरक्षा में सेंधमारी न हो सके। जरूरत पड़ने एसपीजी कभी भी प्लान में बदलाव कर प्रधानमंत्री के लिए वैकल्पिक और सुरक्षित मार्ग का चयन कर सकती है।

एसपीजी का गठन कब हुआ था? – When was SPG Formed?

एसपीजी का गठन 2 जून, 1988 को किया गया था। एसपीजी गठन करने के पीछे का उद्देश्य प्रधानमंत्री की सुरक्षा को मजबूत करना था क्यूंकि इसके गठन के कुछ वर्ष पहले प्रधानमंत्री इंदिरा गाँधी की हत्या के कारण प्रधानमंत्री की सुरक्षा पर प्रश्नचिन्ह लग गए था। जिस वजह से एसपीजी जैसे एक मजबूत बल की स्थापना का महत्व समझा गया। इस प्रकार एसपीजी का गठन संसद के एक अधिनियम के माध्यम से किया गया जिसको एसपीजी एक्ट (SPG Act) कहा जाता है। इन्ही वजहों से एसपीजी कमांडोज का महत्व बहुत अधिक बढ़ जाता है। एसपीजी कमांडो बनाना गर्व की बात तो है ही, साथ ही इसका प्रशिक्षण (SPG Training) भी बहुत कठिन होता है।

एसपीजी सिक्योरिटी कैसी होती है – How SPG Security Works

एसपीजी की सिक्योरिटी सबसे मजबूत सिक्योरिटी मानी जाती है। इसमें काम करने वाला एक-एक जवान बहुत कुशल और अपने काम में माहिर होता है। ऐसा होना लाजिमी भी है क्यूंकि ये प्रधानमंत्री की सुरक्षा के लिए उत्तरदायी होते है। SPG security kya hai जानने के बाद अब आपके मन में प्रश्न आ रहा होगा की spg security kaisi hoti hai मतलब किस तरह से वो अपना काम करते है ताकि प्रधानमंत्री की बेहतर से बेहतर सुरक्षा की जा सके। बता दें की एसपीजी की सुरक्षा बहुस्तरीय (multi level) होती है जिसमे एसपीजी के जवान प्रधानमंत्री की सुरक्षा के लिए सदैव तैयार रहते है। एसपीजी कमांडो के पास FNF-2000 असॉल्ट राइफल, सेमी ऑटोमैटिक पिस्टल के साथ ही साथ एक से बढ़कर एक अत्याधुनिक हथियार होते है जो किसी भी तरह की आपात स्थिति से निपटने में उनकी सहायता करते हैं। प्रधानमंत्री की सुरक्षा एकदम चौकस हो इसका भी ध्यान रखा जाता है इसलिए प्रधानमंत्री की गाडी हमेशा बुलेट प्रूफ (bullet proof car) होती हैं ताकि गाडी के भीतर भी वो सुरक्षित रह सके। प्रधानमंत्री के काफिले में हाईप्रोफाइल गाड़ियों के साथ-साथ एम्बुलेंस और जैमर भी होते है। उनके काफिले में डमी गाडी (dummy car) भी चलती है।

एसपीजी कमांडो की विशेषता क्या है? – What is the Specialty of SPG Commando

1. प्रधानमंत्री का काफिला बहुत लम्बा होता है जिसमे एक से बढ़कर एक अत्याधुनिक हथियारों से लैस कमांडो उनके साथ चलते है।

2. एसपीजी में काम करने वाला कोई भी सदस्य छुट्टी नहीं ले सकता वे हमेशा प्रधानमंत्री की सुरक्षा में ड्यूटी पर रहते हैं।

3. प्रधानमंत्री के काफिले में शामिल जवान लाइटवेट बुलेटप्रूफ जैकेट भी पहनते है ताकि गोली उनपर असर न कर सके यह उनके सुरक्षा कवच के रूप में कार्य करता है।

4. इसके अलावा एसपीजी के कमांडो के जूते बेहद ख़ास होते हैं जो फर्श पर फिसलते नहीं है जिस से फर्श पर उनकी ग्रिप (grip) अच्छी बनी रहती है।

5. एसपीजी कमांडो के पास हैंड ग्लव्स (hand gloves) भी होते है जो उनके हाथों को किसी भी तरह की चोट से बचाने का कार्य करता है।

6. प्रधानमंत्री की सुरक्षा में तैनात एसपीजी कमांडो एक काले रंग का चश्मा (spg black glasses) भी पहनते हैं, इसको पहनने का उद्देश्य किसी भी तरह की डिस्ट्रक्शन से खुद को बचाना होता है और साथ ही ये चश्मा सामने वाले को नहीं पता लगने देता की उनकी नज़र किधर है जो की प्रधानमंत्री की सुरक्षा को और पुख्ता करने में मदद करता है।

एसपीजी कैसे ज्वाइन करे? – How to join SPG?

एसपीजी ज्वाइन करने के लिए सीधा आवेदन नहीं किया जा सकता है। इस सेवा में जाने के लिए एक व्यक्ति को पहले पुलिस, सीआरपीएफ (CRPF), आईटीबीपी (ITBP), बीएसएफ (BSF), या सीआईएसएफ (CISF) जैसे पैरामिलिट्री फोर्स में पहले से काम करने का अनुभव होना अनिवार्य है तभी एक व्यक्ति को एसपीजी में काम करने के योग्य समझा जाता है। इनमे से चयनित उम्मीदवारों को स्पेशल और कड़ी ट्रेनिंग दी जाती है।

एसपीजी देश की सबसे मजबूत सुरक्षा बल है। इसमें सिलेक्शन के सबसे पहले चरण के रूप में व्यक्तिगत साक्षात्कार (personal interview) होता है जिसे IPS अधिकारी रैंक के आईजी (Inspector General), दो डिप्टी आईजी (IG) और दो असिस्टेंट आईजी (assistant IG) लेते है।
साक्षात्कार की प्रक्रिया पूरी हो जाने के पश्चात् उम्मीदवारों को शारीरिक परीक्षा, एक लिखित परीक्षा और एक मनोवैज्ञानिक मूल्यांकन की कठिन चरणों वाली परीक्षा को क्वालीफाई (qualify) करके अपनी उम्मदीवारी को पुख्ता करना होता है। जब कोई व्यक्ति इन सारे चरणों को क्वालीफाई कर लेता है तब उसे ट्रेनिंग के लिए बुलाया जाता है। तो इतनी कड़ी परीक्षा के उपरान्त ही कोई व्यक्ति एसपीजी कमांडो बन पाता हैं।

एसपीजी की ट्रेनिंग कैसी होती है? – SPG Commandeo Training

एसपीजी के लिए चयनित उम्मीदवारों के पास पुराना अनुभव जरूर होता है लेकिन उनको फिर से और बेहतर ट्रेनिंग दी जाती है ताकि वो अपने काम को और निपुणता से पूरा करें और प्रधानमंत्री की सुरक्षा को बेहतर तरीके से अंजाम दें। उनकी ट्रेनिंग बहुत बेहतरीन होती है जिसमे उन्हें हर तरह के गुर सिखाये जाते हैं। एक एसपीजी कमांडो को अत्याधुनिक हथियार और टेक्नोलॉजी से अवगत करवाया जाता है साथ ही उन्हें हर तरह के माहौल के लिए भी तैयार किया जाता है। ट्रेनिंग के दौरान उन्हें तीन महीने के प्रोबेशन (spg probation) पर रखा जाता है, यदि वो अपने ट्रेनिंग में किसी भी कारण से फ़ैल हो जाते हैं तो उन्हें एक और मौका दिया जाता है लेकिन दोबारा चूकने की स्थिति में उन्हें वापिस से अपने उसी यूनिट में भेज दिया जाता है जहां से वो आते हैं। एसपीजी के सदस्य को ड्यूटी में लगातार शिफ्ट किया जाता रहता है।

एसपीजी के ब्रीफकेस में क्या होता है? – Why does SPG carry briefcase?

आपने एसपीजी के कमांडो को जरूर प्रधानमंत्री के साथ चलते देखा होगा और उनके पास एक ब्रीफ़केस होता है इसको भी नोटिस किया होगा। ब्रीफ़केस देख कर आपने मन में प्रश्न जरूर आता होगा की spg ke briefcase me kya hota hai चूँकि उन्हें अक्सर इस ब्रीफ़केस के साथ देखा जाता है इसलिए इस प्रश्न का उठना लाजिमी है। प्रधानमंत्री के साथ चलने वाले एसपीजी के कमांडो ब्रीफकेस को इसलिए लेकर चलते हैं क्यूंकि वह एक portable bullet proof shield होता है जो किसी भी हमले की सूरत में खोला जा सकता है और एक ढाल की तरह इस्तेमाल किया जा सकता है।

एसपीजी प्रधानमंत्री की सुरक्षा में तैनात एक बेहद ही महत्वपूर्ण और शक्तिशाली बल है। एसपीजी का काम बहुत महत्वपूर्ण है क्यूंकि इसपर देश के मुखिया की सुरक्षा का दारोमदार है। एसपीजी प्रधानमंत्री की सुरक्षा बाकी की एजेंसीयो के साथ मिलकर करती है। इस लेख में हमने आपको एसपीजी से सम्बंधित सम्पूर्ण जानकारी देने का प्रयास किया है।
उम्मीद करते हैं की spg security kya hai के साथ साथ spg commando kya hai को आप समझ गए होंगे। इसी के साथ-साथ हमने एसपीजी की कार्यप्रणाली को भी इस लेख में सम्मिलित किया है। जो लोग एसपीजी में जाने की ख्वासिह रखते हैं उनके प्रश्न spg kaise join kare को भी हमने इस लेख में जगह दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.